/* */


बुधवार, 22 अगस्त 2012

मिलते रहेंगे


“ मिलते रहेंगे ...”

जिंदगी में जरुर मिलते रहेंगे,

आप कैसे है ?  पूछते रहेंगे ...

बात को बिगड़ने नहीं देंगे, 

अगर बिगड़ी तो सँभालते रहेंगे ...

अलविदा तो अब भी नहीं कहूँगा,

छोटे छोटे पल चुराकर मुस्कुराते रहेंगे,

छोटे छोटे बहाने बनाकर मिलते रहेंगे ...

मिलने की तमन्ना दिल में रखता हूँ, इसलिए अलविदा कभी नहीं कहेंगे ...



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

लिखिए अपनी भाषा में